Samay Ki Bachat Hoti

Apani Galatiyaan Svikaar Karane Ka Sabase Bada Faayada Hai,
Samay Ki Bachat Hoti Hai.

अपनी गलतियाँ स्वीकार करने का सबसे बड़ा फायदा है,
समय की बचत होती है।

Samay Ki Bachat Hoti Two Line Shayari
Advertisement

Rishton Ki Maala Jab Tootati Hai, To Dubaara Jodane Se Chhoti Ho Hi Jaati Hai,
Kyoki Kuchh Jajbaat Ke Moti Bikhar Hi Jaate Hai.

रिश्तों की माला जब टूटती है, तो दुबारा जोड़ने से छोटी हो ही जाती है,
क्योकि कुछ जज्बात के मोती बिखर ही जाते है।

Dil Ab Pahale Sa Maasum Nahin Raha,
Patthar To Nahin Bana Magar Ab Mom Bhi Nahin Raha.

दिल अब पहले सा मासुम नहीं रहा,
पत्थर तो नहीं बना मगर, अब मोम भी नहीं रहा।

Muskuraane Ki Aadat Bhi Kitani Manhagi Padi Hamako,
Bhula Diya Sabane, Ye Kah Kar Ki, Tum To Akele Bhi Khush Rah Lete Ho.

मुस्कुराने की आदत भी कितनी मंहगी पड़ी हमको,
भुला दिया सबने, ये कह कर की, तुम तो अकेले भी खुश रह लेते हो।

Tinake-Tinake Mein Bikharate Chale Gaye, Tanhai Ki Gaharaiyon Mein Utarate Chale Gaye,
Jannat Thi Har Shaam Jin Doston Ke Saath, Ek-Ek Karake Sab Bichhadate Chale Gaye.

तिनके-तिनके में बिखरते चले गए, तन्हाई की गहराईयों में उतरते चले गए,
जन्नत थी हर शाम जिन दोस्तों के साथ, एक-एक करके सब बिछड़ते चले गए।

Advertisement
Advertisement

Related Shayari

Shayari Categories