Koi Dil Ko Tod Deta Hai

Koi Dil Ko Tod Deta Hai Pyaar Mein,
Koi Bharosa Tod Deta Hai Dosti Kee Aad Mein.
Agar Jindagi Jeena Hi Hai To, Jio Gulaab Ki Tarah,
Jo Do Dilon Ko Jod Deta Hai Kurbaan Ho Kar.

कोई दिल को तोड़ देता है प्यार में,
कोई भरोसा तोड़ देता है दोस्ती की आड़ में।
अगर जिंदगी जीना ही है तो, जिओ गुलाब की तरह,
जो दो दिलों को जोड़ देता है कुर्बान हो कर।

Koi Dil Ko Tod Deta Hai Shayari On Zindagi
Advertisement

Bekhudi Ki Zindagi Ham Jiya Nahin Karte,
Jaam Doosron Se Chheenkar Ham Piya Nahin Karte,
Unko Mahobat Hai To Aakar Izahar Karen,
Peechha Ham Bhi Kisika Kiya Nahin Karate.

बेखुदी की जिंदगी हम जिया नहीं करते,
जाम दूसरों से छीनकर हम पिया नहीं करते,
उनको महोबत है तो आकर इज़हार करें,
पीछा हम भी किसीका किया नहीं करते।

Zindagi Ke Mod Par Ek Aisa Waqt Aata Hai,
Jab Insaan Apane Aapko Tanha Pata Hai,
Wahi Tanhai to Batati Hai,
Ki Kon Kiska Kitna Sath Nibhata Hai.

ज़िन्दगी के मोड़ पर एक ऐसा वक़्त आता है,
जब इंसान अपने आपको तनहा पाता है,
वही तन्हाई तो बताती है,
कि कौन किसका कितना साथ निभाता है।

Advertisement
Advertisement

Related Shayari

Shayari Categories