Akele Ham Boond Hain

Akele Ham Boond Hain, Mil Jayen To Saagar Hain,
Akele Ham Dhaaga Hain, Mil Jayen To Chaadar Hain,
Akele Ham Kagaj Hain, Mil Jayen To Kitaab Hain.

अकेले हम बूँद हैं, मिल जाएं तो सागर हैं,
अकेले हम धागा हैं, मिल जाएं तो चादर हैं,
अकेले हम कागज हैं, मिल जाएं तो किताब हैं।

Akele Ham Boond Hain Love Shayari
Advertisement

Pyaar Kaho To Do Dhai Laphaz, Maano To Bandagi,
Socho To Gahara Saagar, Doobo To Zindagi,

प्यार कहो तो दो ढाई लफज़, मानो तो बन्दगी,
सोचो तो गहरा सागर, डूबो तो ज़िन्दगी,

Karo To Aasaan, Nibhao To Mushkil,
Bikhare To Saara Jahaan, Aur Simate To "Tum"

करो तो आसान, निभाओ तो मुश्किल,
बिखरे तो सारा जहाँ, और सिमटे तो "तुम"

Kuchh Rishton Ko Kabhi Bhi... Naam Na Dena Tum...
Inhen Chalane Do Aise Hi... Ilzaam Na Dena Tum...

कुछ रिश्तों को कभी भी... नाम ना देना तुम...
इन्हें चलने दो ऐसे ही... इल्ज़ाम ना देना तुम॥

Aise Hi Rahane Do Tum... Tishnagi Har Lafz Mein...
Ke Alfaazon Ko Mere... Anzaam Na Dena Tum...

ऐसे ही रहने दो तुम... तिश्नग़ी हर लफ़्ज़ में...
के अल्फ़ाज़ों को मेरे... अंज़ाम ना देना तुम॥

Advertisement
Advertisement

Related Shayari

Shayari Categories