Kunware Ham Bhi Nahi

Bewafa Tum Ho To Wafadaar Ham Bhi Nahin,
Besharam Tum Ho To Sharmasaar Ham Bhi Nahin,
Pyaar Ke Is Mod Par Kahate Ho Ki Shaadishuda Ho,
To Kya Hua Daarling Kunware Ham Bhi Nahi.

बेवफा तुम हो तो वफादार हम भी नहीं,
बेशरम तुम हो तो शर्मसार हम भी नहीं,
प्यार के इस मोड़ पर कहते हो की शादीशुदा हो,
तो क्या हुआ डार्लिंग कुंवारे हम भी नहीं।

Kunware Ham Bhi Nahi Comedy Shayari
Advertisement

Mere Dost Tum Bhi Likha Karo Shayari,
Tumhara Bhi Meri Tarah Naam Ho Jaayega,
Jab Tum Par Padenge Ande Aur Tamatar,
To Shaam Ki Sabji Ka Intajaam Ho Jaayega.

मेरे दोस्त तुम भी लिखा करो शायरी,
तुम्हारा भी मेरी तरह नाम हो जायेगा,
जब तुम पर पड़ेंगे अंडे और टमाटर,
तो शाम की सब्जी का इंतजाम हो जायेगा।

Na Jaane Kab Koi Taara Toot Jaaye,
Na Jaane Kab Koi Aansoo Aankh Se Chhoot Jaaye,
Kuchh Pal Hamaare Saath Bhi Hans Lo,
Na Jaane Kab Tumhaare Daant Toot Jaaye.

ना जाने कब कोई तारा टूट जाये,
ना जाने कब कोई आंसू आँख से छूट जाये,
कुछ पल हमारे साथ भी हँस लो,
ना जाने कब तुम्हारे दांत टूट जाये।

Ham Aaj Bhi Dil Ka Aashiyaana Sajaane Se Darate Hain,
Baagon Mein Phool Khilaane Se Darate Hain,
Hamaari Ek Pasand Se Toot Jaayenge Hajaaro Dil,
Tabhi To Ham Aaj Bhi Girlfriend Banaane Se Darate Hain.

हम आज भी दिल का आशियाना सजाने से डरते है,
बागों में फूल खिलाने से डरते है,
हमारी एक पसंद से टूट जायेंगे हजारो दिल,
तभी तो हम आज भी गर्लफ्रेंड बनाने से डरते है।

Advertisement
Advertisement

Related Shayari

Shayari Categories