Bachcho Ko Daraane Ke Kaam Aai

Teri Yaad Mein Hamne Kalam Uthaayi,
Liya Pepar Aur Tasvir Aapaki Banaayi,
Socha Tha Ki Usako Dil Se Lagaakar Rakhenge,
Magar Wo To Bachcho Ko Daraane Ke Kaam Aai.

तेरी याद में हमने कलम उठायी,
लिया पेपर और तस्वीर आपकी बनायी,
सोचा था की उसको दिल से लगाकर रखेंगे,
मगर वो तो बच्चो को डराने के काम आई।

Bachcho Ko Daraane Ke Kaam Aai Comedy Shayari
Advertisement

Ummidon Ki Manjil Toot Gayi,
Aankhon Se Ashko Ki Dhaara Bah Gayi,
Are Tumhaari Bhi Kya Ijjat Rah Gayi,
Jab Class Mein Ladaki Bhaiya Kah Gayi.

उम्मीदों की मंजिल टूट गयी,
आँखों से अश्को की धारा बह गयी,
अरे तुम्हारी भी क्या इज्जत रह गयी,
जब क्लास में लड़की भैया कह गयी।

Wo Aaj Bhi Hamen Dekh Kar Muskuraate Hain,
Wo Aaj Bhi Hamen Dekh Kar Muskuraate Hain,
Ye To Unake Bachche Hi Kamine Hain,
Jo Hamen Maama Maama Bulaate Hain.

वो आज भी हमें देख कर मुस्कुराते है,
वो आज भी हमें देख कर मुस्कुराते है,
ये तो उनके बच्चे ही कमीने है,
जो हमें मामा मामा बुलाते है।

Khyaal To Kisi Aahat Ki Aas Rahati Hai,
Nigaah Ko Kisi Soorat Ki Talaash Rahati Hai,
Tere Bin Koi Kami To Nahin Hai Dost,
Bas Gali Waali Jamadaarni Udaas Rahati Hai.

ख्याल तो किसी आहट की आस रहती है,
निगाह को किसी सूरत की तलाश रहती है,
तेरे बिन कोई कमी तो नहीं है दोस्त,
बस गली वाली जमदार्नी उदास रहती है।

Aaj Tum Par Aasooo Ki Barasaat Hogi,
Phir Wahi Kadakati Kaali Raat Hogi,
Yaad Na Kar Ke Tumane Dil Dukhaaya Hai Mera,
Ja Tere Badan Mein Khujali Saari Raat Hogi.

आज तुम पर आसूओ की बरसात होगी,
फिर वही कड़कड़ाती काली रात होगी,
याद ना कर के तुमने दिल दुखाया है मेरा,
जा तेरे बदन में खुजली सारी रात होगी।

Advertisement
Advertisement

Related Shayari

Shayari Categories