Duniya Jise Neend Kehti Hai

Duniya Jise Neend Kehti Hai ,
Na Jaane Wo Kya Cheez Hoti Hai,
Aankhen To Hum Bhi Band Karte Hain,
Par Wo To Unse Milne Ki Tarkeeb Hoti Hai,
Hum Neend Ke Shoukheen Jyada To Nahi,
Lekin Kuch Khwab Na Dekhe To Guzara Nahi Hota.

दुनि‍या जिसे नींद कहती है,
ना जाने वो क्या चीज होती है,
आँखे तो हम भी बंद करते हैं,
पार वो तो उनसे मिलने की तरकीब होती है,
हम नींद के शौखीन ज्यादा तो नहीं,
लेकिन कुछ ख्वाब ना देखें तो गुजारा नहीं होता।

Duniya Jise Neend Kehti Hai Bewafa Shayari
Advertisement

Kitna Dur Nikal Gye Riste Nibhate-Nibhate,
Khud Ko Kho Diya Humne Apno Ko Pate-Pate,
Log Kahte Hai Dard Hai Mere Dil Me,
Aur Hum Thak Gye Muskurate-Muskurate.

कितना दूर निकल गये रिस्ते निभाते-निभाते,
खूद को खो दिया हमनें अपनो को पाते-पाते,
लॉग कहते है दर्द है मेरे दिल में,
और हम थक गये हैं मुस्कुराते-मुस्कुराते।

Duniya Me Koi Kisi Ke Liye Kuch Nahi Karta,
Marne Wale Ke Saath Har Koi Nahi Marta,
Are Marne Ki Baat To Door Rahi,
Yaha To Zindgi Hai Phir Bhi Koi Yaad Nahi Karta.

दुनिया मे कोइ किसी के लिय कुछ नहीं करता,
मरने वाले के साथ हर कोई नहीं मरता,
अरे मरने कि बात तो दूर रही,
यहाँ तो ज़िन्दगी है फ़िर भी कोई याद नहीं करता।

Advertisement
Advertisement

Related Shayari

Shayari Categories